छेड़छाड़ मामले में क्रिस गेल ने जीता डेढ़ करोड़ का मानहानि मुकदमा

4

सिडनी: वेस्टइंडीज के स्टार क्रिकेटर क्रिस गेल ने करीब तीन साल पुराने मामले में एक ऑस्ट्रेलिायई मीडिया ग्रुप के खिलाफ मानहानि का मुकदमा जीत लिया है. 2015 वर्ल्ड कप के दौरान हुए इस वाक्ये को  फेयरफैक्स मीडिया ने 2016 में सिलसिलेवार लेखों में गेल पर आरोप लगाया था जिससे परेशान होकर अंततः गेल ने मुकदमा दायर किया जिसमें उन्हें जीत हासिल हुई

गेल ने ऑस्ट्रेलिया के एक मीडिया ग्रुप फेयरफैक्स मीडिया के खिलाफ तीन लाख ऑस्ट्रेलियाई डालर का मानहानि का मुकदमा जीता, जिसने दावा किया था कि गेल ने एक मालिश करने वाली को अपने गुप्तांग दिखाए थे. फेयरफैक्स मीडिया सिडनी मार्निंग हेराल्ड और द ऐज का प्रकाशन करता है.

उन्होंने आरोप लगाया था कि सिडनी में 2015 में ड्रेसिंग रूम में गेल ने उस महिला के साथ ऐसा बर्ताव किया था. गेल ने उन आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि पत्रकारों ने उन्हें बर्बाद करने के लिये यह सब किया है. न्यू साउथ वेल्स सुप्रीम कोर्ट की जस्टिस लूसी मैकुलम ने कंपनी को भुगतान का निर्देश देते हुए कहा कि इन आरोपों से गेल की साख को काफी ठेस पहुंची है. फेयरफैक्स ने कहा कि वह फैसले के खिलाफ तुरंत अपील की सोच रहे हैं.

साल 2015 विश्व कप के दौरान एक महिला के साथ कथित अशिष्टता के आरोपों से घिरे वेस्टइंडीज के विस्फोटक बल्लेबाज क्रिस गेल ने फेयरफैक्स मीडिया के खिलाफ मानहानि की कार्यवाही शुरू करने के लिए ऑस्ट्रेलिया के एक प्रमुख वकील की सेवाएं मांगी थीं.

2016 में बिग बैश लीग के दौरान फिर सामने आए थे आरोप- गेल के खिलाफ ये आरोप 2016 की बीग बैश लीग में मेलबर्न रेनेगेड्स के लिये खेलते समय टेन स्पोर्ट्स की महिला प्रस्तोता मेल मैक्लागलिन के साथ साक्षात्कार की व्यापक तौर पर आलोचना किये जाने के बाद भी सामने आये थे. बिग बैश लीग में एक मैच के बाद गेल ने साक्षात्कार ले रहीं मैक्लागलिन से ड्रिंक पर जाने के लिए पूछा था. इसके लिए रेनेगेड्स ने उन पर 10,000 अमेरिकी डॉलर का जुर्माना भी लगाया था, लेकिन वर्ल्ड कप के दौरान लगे आरोपों पर गेल के प्रबंधक साइमन ओटेरी ने एक बयान में कहा था कि क्रिस गेल ने फेयरफैक्स द्वारा प्रकाशित किये गये आरोपों का खंडन किया है.

यह शिकायत थी गेल को- गेल का कहना था कि खंडन करने के बावजूद फेयरफैक्स मीडिया ने झूठे और मानहानि करने वाले आरोपों को प्रकाशित करना जारी रखा है जिसे विश्व भर में मीडिया के जरिये खासी प्रमुखता मिल रही थी. ओटेरी ने कहा था कि इस कारण गेल ने प्रमुख ऑस्ट्रेलियाई वकील मार्क ओ ब्रायन से संपर्क किया और उनसे फेयरफैक्स मीडिया के खिलाफ तत्काल मानहानि की कार्यवाही शुरू करने के लिए कहा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here