बोस्नियाई लड़ाई: एक ऐसा संघर्ष जिसमें 130,000 लोग गए थे मारे

5

सराजेवो: बोस्निया की 1990 के दशक की लड़ाई के दौरान बोस्नियाई मुस्लिम बलों के साथ लड़ने वाले एक पूर्व जनरल को सर्ब नागरिकों के खिलाफ युद्ध अपराध करने के आरोप में यहां बुधवार को गिरफ्तार किया गया. रमीज ड्रेकोविक (62) पिछले तीन सालों में बोस्नियाई मुस्लिम्स (बोस्नियाक) सैनिकों का ऐसा तीसरा जनरल है जिसे स्थानीय अधिकारियों ने युद्ध अपराध का आरोपी बनाया है. ड्रेकोविक मूल रुप से सर्बिया के रहने वाले था. 1991 में संघर्षों की लंबी श्रृंखला के बाद युगोस्लाविया के विखंडित होने से पहले युगोस्लाव पीपुल्स आर्मी (जेएनए) के कप्तान थे. इन संघर्षों में 130,000 लोग मारे गये थे जिसमें से अधिक लोगों की जान बोस्नियाई लड़ाई में गयी थी. ड्रेकोविक बाद में बोस्नियाई सेना के वरिष्ठतम जनरलों में एक बने थे.

बोस्नियाई युद्ध अपराध अभियोजक के अनुसार ड्रेकोविक ने 1995 में कई मौकों पर दक्षिणपूर्व में सर्ब शहर कालिनोविक पर गोला दागने का आदेश दिया था. अभियोजक कार्यालय ने एक बयान में कहा कि इस गोलाबारी में 15 साल का एक बच्चा मारा गया था और कई लोग घायल हुए थे. साथ ही संपत्ति का बड़ा नुकसान हुआ था. 1995 में इस युद्ध के समापन के शीघ्र बाद ही ड्रेकोविक सेवानिवृत हुए और वह बोस्नियन मुस्लिम नेताओं के सलाहकार बने.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here