कोहली को खल रही पंड्या की कमी, बोले – हार्दिक के बिना इसके लिए मजबूर होना पड़ता है

3

नेपियर: भारतीय कप्तान विराट कोहली ने विश्वकप में आदर्श गेंदबाजी संयोजन के लिए मंगलवार को वनडे टीम में ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या की मौजूदगी के महत्व पर जोर दिया. टीवी शो के दौरान महिलाओं को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के लिए पंड्या को जांच लंबित रहने तक निलंबित किया गया है. बुधवार को न्यूजीलैंड के खिलाफ शुरू हो रही पांच वनडे मैचों की सीरीज से पहले भारत को तीसरे विशेषज्ञ तेज गेंदबाज को लेकर परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

हार्दिक के विकल्प के तौर पर खेले खलील अहमद और मोहम्मद सिराज के खिलाफ ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों ने पहले दो वनडे मैचों में आसानी से रन बटोरे थे जबकि विजय शंकर ने मेलबर्न में निर्णायक मैच में छह ओवर किफायती गेंदबाजी की. आदर्श गेंदबाजी संयोजन के बारे में पूछने पर कप्तान ने कहा, “ईमानदारी से कहूं तो यह ऑलराउंडर पर निर्भर करता है. अगर आप दुनिया की सबसे मजबूत टीमों को देखें तो उनके पास कम से कम दो ऑलराउंडर हैं, किसी टीम में तीन भी, इससे आपको काफी गेंदबाजी विकल्प मिलते हैं.”

कोहली ने कहा कि तीसरा तेज गेंदबाज तभी विकल्प है जब विशेषज्ञ ऑलराउंडर उपलब्ध नहीं हो. कोहली ने मैकलीन पार्क में होने वाले पहले वनडे मैच से पूर्व कहा, “अगर विजय शंकर या हार्दिक जैसा खिलाड़ी नहीं खेलता है तभी तीन गेंदबाजों के साथ उतरना समझदारी भरा लगता है क्योंकि अगर कोई ऑलराउंडर तेज गेंदबाजी के कुछ ओवर फेंक देता है तो जरूरी नहीं कि तीसरे गेंदबाज के रूप में आपको ऐसे गेंदबाज की जरूरत हो जो 140 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से गेंदबाजी कर सकता हो.”

हार्दिक की अनुपस्थिति पर कोहली ने कहा, “मेरे तीन गेंदबाजों का समर्थन करना हो या एशिया कप, ऐसा तभी हुआ जब हार्दिक उपलब्ध नहीं था. हमें तीन तेज गेंदबाजों को खिलाना पड़ा. जब भी ऑलराउंडर उपलब्ध होता है आप तीसरे तेज गेंदबाज के बारे में नहीं सोचते जब तक कि हालात पूरी तरह से स्पिन गेंदबाजी के खिलाफ नहीं हों.”

कप्तान ने कहा कि सीरीज जीतना महत्वपूर्ण है लेकिन विश्व कप को ध्यान में रखते हुए वह टीम संयोजन को लेकर लचीलापन दिखाएंगे. उन्होंने कहा, “जीतना हमेशा काफी महत्वपूर्ण होता है लेकिन इस समय मुख्य चीज यह है आतुरता नहीं दिखाई जाए. ड्रेसिंग रूम में अच्छा माहौल होना जरूरी है, विश्वकप से पहले टीम के रूप में सुधार के लिए धैर्य और सामूहिक प्रयास जरूरी है.” कोहली ने संकेत दिए कि सीरीज के दौरान कुछ खिलाड़ियों को आजमाया जा सकता है जिससे युवा शुभमन गिल को मौका मिलने की उम्मीद बढ़ी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here