विदेश मंत्रालय की दो टूक, अभ‍िनंदन ने पा‍कि‍स्‍तान का विमान मार गिराया, इसके सबूत भी मौजूद

2

नई दिल्ली: विदेश मंत्रालय ने शनिवार को कहा कि भारतीय वायुसेना (आईएएफ) के लड़ाकू विमान मिग-21 बाइसन ने पाकिस्तान वायु सेना के लड़ाकू विमान एफ-16 को गिरा दिया था और इसके लिए प्रत्यक्षदर्शियों के साथ-साथ इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य भी हैं. मिग-21 को विंग कमांडर अभिनंदन वर्द्धमान उड़ा रहे थे. मंत्रालय ने कहा कि पाकिस्तान के एफ-16 विमानों और एमराम मिसाइल का प्रयोग करने के भी साक्ष्य है और विमान तथा मिसाइल के टुकड़े मौके से बरामद किए गए थे. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने एक मीडिया ब्रीफिंग में कहा कि विंग कमांडर वर्द्धमान द्वारा उड़ाए गए भारतीय वायुसेना के मिग-21 बाइसन ने पाकिस्तान वायु सेना के एफ-16 लड़ाकू विमान को गिरा दिया था और इसके प्रत्यक्षदर्शियों के साथ साथ इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य भी हैं.

इस हवाई लड़ाई में भारत ने अपना मिग-21 विमान गंवा दिया था और उसके पायलट विंग कमांडर वर्द्धमान को पाकिस्तान ने अपने कब्जे में ले लिया था. पाकिस्तान ने दावा किया था कि उसने दो भारतीय विमानों को गिरा दिया और आईएएफ के इस दावे को खारिज किया था कि हवाई लड़ाई (डॉगफाइट) के दौरान एफ-16 लड़ाकू विमान को गिरा दिया गया. कुमार ने कहा, ‘हमने केवल एक विमान को खोया है. यदि, जैसा कि पाकिस्तान दावा करता है, उनके पास एक दूसरे भारतीय विमान को गिराने की वीडियो रिकॉर्डिंग है, तो उन्होंने एक सप्ताह से अधिक समय के बाद भी इसे अंतरराष्ट्रीय मीडिया को क्यों नहीं दिखाया है.?’

उन्होंने कहा, ‘उनसे सवाल पूछा जाना चाहिए कि विमान का ढांचा कहां है और पायलटों के साथ क्या हुआ है? जैसा कि हमने पहले ही कहा है, प्रत्यक्षदर्शी और इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य हैं कि पाकिस्तान ने एफ-16 विमान तैनात किया हैं और विंग कमांडर अभिनंदन ने एक एफ -16 को गिरा दिया.’ कुमार ने कहा कि पाकिस्तान को यह स्पष्ट करना चाहिए कि वह लगातार इस बात से क्यों इनकार कर रहा है कि उसके एफ-16 लड़ाकू विमान को गिराया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here